visualization-law-of-attraction-helpinhindi

Law Of Attraction की Series में HelpinHindi.iN में फिर से स्वागत हैं।
सबसे पहले में आप सभी का बधाई देना चाहता हु की आप सभी पहले वाले सभी Articals पढ़ चुके है और आपका Law Of Attraction काम कर रहा हैं तभी आप इस Artical को पढ़ने के लिए बैठे हो।
अगर आप उन सभी पोस्ट को देख चुके हो तो ही आप इस पोस्ट को समझ पाओगे।
क्योंकि आज जो में आपको बताने जा रहा हूं वो आपके आकर्षण को ओर मजबूत कर देगा। तो इसे आप ध्यान से पढ़िए और जिसने पहले वाली पोस्ट को नहीं देखा हैं तो पहले उन्हें Series wise देखे।
> Law Of Attraction Introduction
> How Work Law Of Attraction
आप हम जिस Topic पर बात करने जा रहे हैं उसका महत्व आपके हर काम को पूरा करने में बहुत ही ज्यादा हैं क्योंकि इसके बिना आप वो मुकाम हासिल ही नहीं कर सकते जिसको आप पाना चाहते हों।

VISUALISATION

Visualisation मतलब दृश्य ( देखना ) । Visualisation ही आपको आपके मुकाम तक पहुँचा सकता हैं क्योंकि Visualisation के बिना Law Of Attraction ऐसा हैं जैसे बिना बैटरी का फ़ोन।
बिना पेट्रोल के मोटरसाइकिल।
अगर आप फ़ोन को चलाना चाहते हो तो battery होनी जरूरी हैं उसके बिना आप उसको खोल भी नहीं सकते चाहे वो Simple Phone हो या चाहे Branded फ़ोन।
ऐसे ही मोटरसाइकिल में पेट्रोल ना हो तो आप उसको Start भी नहीं कर सकते। बिल्कुल ऐसे ही अगर आप Visualisation नहीं कर रहे हो तो आप Law Of Attraction को उपयोग ही नहीं कर सकते। क्योंकि ये असिलियत पर आधारित हैं, ये आपको Present में  आपका Future देखने की पूरी खोल देती हैं।
अगर आपको सच में वैसी ही ज़िन्दगी चाहिए जैसी आप चाहते हैं तो आप अभी से वो सोचना सुरु कर दो जो आप पाना चाहते हों।
अब हम ये भी सिख ले कि हम इसको इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं जिस से आपको Visualisation करना काफी हद तक आसान हो जाएगा 🙂 ।

TECHNIQUE OF VISUALISATION

★ सबसे पहले आप एक डायरी ले और उसमें वो सब लिखे जो आप पाना चाहते हों, जैसे एक बड़ा सा घर जिसमे आप रहना चाहते हो
– महंगी गाड़ी जिसको आप चलाना चाहते हों।
– महंगी घड़ी जिसको आप अपनी कलाई में बांधना चाहते हो।
– ऐसा देश जिसमे आप Tour लेना चाहते हों सब कुछ जो आप चाहते हो
– वो Achievemnt जिसको आप लेना चाहते हो। वो सब आप एक डायरी में लिखना शूरू करदो।

★ अब आप जिस किसी भी चीज को हासिल करना चाहते हो उसको अपने दिमाग में लाते रहे और उसको महसूस करे कि वो आपको मिल गयी है, आप महसूस करे कि वो आपके पास है जो आप चाहते हैं वो चेहरे पर खुशी वो Exitement, वो Feeling सब कुछ Feel करे जैसा कि वो आपके पास ही हैं ओर आपने उसको पा लिया हैं। अगर आप ऐसा कर पा रहे हैं तो बहुत ही बढ़िया पर अगर आप ऐसा नहीं कर पा रहे हैं तो आपको में एक आसान तरीका बताऊंगा जिस से आप वो सब आसानी से कर सकते हैं।

★ अब आप एक काम कीजिये अपनी डायरी और पेन को हाथ में लेकर उस पर वो Seen लिखना स्टार्ट करें जो आप चाहते हैं कि जब मुझे वो मिल जाये या मिल गया हो तो तब मेरे साथ क्या होगा, कैसे होगा वो सब कुछ जो आप अपनी Life में लाना चाहते हैं। वो seen जो आप लिखोगें उसको उतनी गहराई से लिखे की कोई और पढ़े तो उसके भी आंखों के सामने वो Seen Create हो जाएगा जैसा आप चाहते हैं।
जैसे : आपको एक कार लेनी हैं तो कार के बाहर का दृश्य कैसा रंग, कैसा Design सब कुछ।
उसके अंदर से सब बाते लिखे जो आपको चाहिए।
जब आप उसमें बेठो तो आपकी कैसी Feeling होगी।
सब कुछ आप लिखे इतनी गहराई में लिखे की आप खुद को वह महसूस करो।

Write Down Each and Everything.

– जब आप ये सब लिख रहे हो तो दिमाग में ये ना लेकर आये की कोई और इसको पड़ेगा, अगर ऐसा सोचोगे तो आपका दिमाग पूरा ना खुलने की वजह से सब कुछ ना लिख पायेगा।
आप उसको बड़े प्यार से साफ साफ Clear करे।

अगर आप ये तरीका Use करके लिख चुके हैं तो अब हम इसकी Process पर नजर डालते हैं कि इसको अब चलाना कैसे हैं।

PROCESS OF VISUALISATION

★ एक चीज पर Focus करोगे तो वो ही मिलेगा। आप 1 ही समय में Multi thinking ना करे,
एक समय में सिर्फ एक के बारे में ही सोचे।
जो आपने seen लिखा हैं वो सिर्फ 1 होना चाहिए जो कि सटीक और साफ हो।

★ ये आपको लगातार 21 दिन तक करना होता हैं पर में आपको कहूंगा कि आप यहाँ दिनों के हिसाब से Visualise ना करे। इसको आप तब तक करते रहे जब तक आप वह तक पहुच नहीं जाते। आप दिनों की Calculation ना करे।

★ अब जब आप हर दिन उसको visualise कर रहे हैं तो आप उसको हर दिन Monitor करे की जो आपको चाहिए वो Image आपके दिमाग में साफ साफ होने लगी या नहीं, शूरू शूरु में आपके दिमाग में उसकी Image दुंधली मिलेगी और जब ये साफ हो जाये तो सोचलो की वो जो आप सोच रहे हो वो आपके पास आ रही हैं और आपको मिलने वाली हैं।

★ आप इसको Visualise करने का समय तय ना करे, आप इसको कभी भी कर सकते हैं।
सुबह     दोपहर     शाम कभी भी आप इसको शूरु कर सकते हैं इसमे आपको आंखे बंद करने की भी जरूरत नहीं होती। आप इसको आंखे खोल के या बंद करके कैसे भी कर सकते हो।
बस ध्यान रहे कि जब आप इसको कर रहे हो तब आपका दिमाग शांत हो।।

में आशा करता हूँ आपको आज का Artical अच्छे से Clear हो गया होगा कि हमे Law Of Attraction का चौथा Step कैसे उपयोग करना हैं।
अगर Artical अच्छा लगा तो उसको ज्यादा से ज्यादा Share करे। और आप अब मेरे नए articals की जानकारी अपनी Gmail पर भी ले सकते हैं आप दिए गए FOLLOW BY MAIL में जाकर अपनी Gmail को देखकर Subscribe कर सकते हैं।

अगली पोस्ट में हम कुछ नया जानने की कोशिश करेंगे। तब तक आप सभी पोस्ट को पढ़ कर अपने आप को तैयार कर ले।

#helpinhindi #helpinhindiblog #helpinhindi.in